Sunday, December 6, 2009

ज़ब भी चेहरे उदास होते है

ज़ब भी चेहरे उदास होते है ,दिल भी कुछ बदहवाश होते है॥
वो तो कुछ बात है की सलामत हो अनिल ।
वरना जल जाते है जो आस पास होते है ॥

5 comments:

  1. Sundar rachna hai...sirf chand alfaaz kee wartanee galat hai...bura na mano to bata dun?

    "Badhawaas" hona chahiye,na ki,"bahawaash"..tatha "jal" jate,naki 'zal' jate...

    http://kavitasbysaham.blogspot.com

    http://shamasansmaran.blogspot.com

    http://aajtakyahantak-thelightbyalonelypath.blogspot.com

    ReplyDelete
  2. Sundar rachna..wartanee ke bareme kshana ji se sahmat hun..

    ReplyDelete
  3. उदास होना अच्छी बात नहीं
    खुश रहो और खुश रखो

    ReplyDelete
  4. हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई
    कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी टिप्पणियां दें

    कृपया वर्ड-वेरिफिकेशन हटा लीजिये
    वर्ड वेरीफिकेशन हटाने के लिए:
    डैशबोर्ड>सेटिंग्स>कमेन्टस>Show word verification for comments?>
    इसमें ’नो’ का विकल्प चुन लें..बस हो गया..कितना सरल है न हटाना
    और उतना ही मुश्किल-इसे भरना!! यकीन मानिये

    ReplyDelete